महाराष्ट्र के पालघर में बुजुर्ग मां के गुजर जाने के बाद गुजरात के अहमदाबाद में रहने वाली उनकी बेटी ने अंतिम संस्कार को वीडियो काॅलिंग के जरिए किया। साथ ही अस्थि कलश को कुरियर के माध्यम से गुजरात में मंगवाया। वहीं अब यह वाक्या पूरे इलाके में चर्

आज की इस भागादौड़ी जिंदगी और डिजिटल की ओर बढ़ते जमाने के बीच एक ऐसा वाक्या सामने आया, जिसे सुनकर हर कोई हैरान रह गया। दरअसल महाराष्ट्र के पालघर में रहने वाली एक बुजुर्ग महिला के अंतिम संस्कार को गुजरात में रह रही उनकी बेटी ने आॅनलाइन विडियो काॅलिंग के जरिए कराया। साथ ही सभी विधि विधान को आनलाइन वीडियो कॅालिंग से पूरा करने के बाद अपनी मां की अस्थियों को कुरियर के माध्यम से गुजरात में मंगवाई। हालांकि अब यह घटना वहां पर चर्चा का विषय बन चुकी है।


मिली जानकारी के मुताबिक, महाऱाष्ट्र के पालघर में धीरज पटेल अपने पत्नी निरीबाई पटेल के साथ रहते थे। इस बुर्जुग दंपत्ति की एक बेटी थी, जिसकी शादी गुजरात में स्थित अहमदाबाद में हुई थी। वह वहां पर अपने पति और बच्चों के साथ रहती है। इसी बीच बीते मंगलवार को धीरज पटेल किसी काम से बाहर गए थे तो उसी दौरान उनकी पत्नी की अचानक तबीयत बिगड़ने की वजह से जान चली गई। इस दौरान घर पर किसी के मौजूद नहीं होने की वजह से आस पास के लोग इकट्ठा हो गए और उनकी मां के इस दुनिया को छोड़ चले जाने की जानकारी गुजरात में मौजूद उनकी बेटी को दी, हालांकि  अहमदाबाद में रह रही उनकी बेटी ने अंतिम संस्कार में आने में असमर्थता जाहिर की।

साथ में कहा कि आप गांव वाले उनका अंतिम संस्कार कर दीजिए और इस दौरान मुझे विडियो कॅालिंग के जरिए मेरी मां का अंतिम दर्शन करा दीजिए। इसके बाद स्थानीय लोगों ने 65 वर्षीय बुजुर्ग महिला का अंतिम संस्कार मनोर स्थित हिंदू के श्मशान में कर दिया और विडियों कालिंग के जरिए उनकी बेटी को अंतिम दर्शन भी करा दिए। वहीं दूसरी तरफ मां की अस्थियों को कुरियर के माध्यम से गुजरात मंगा लिए और बाकी के विधि विधान को वहीं पर पूरा करने की बात कहीं।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here