प्यार में पड़ा इंसान क्या-क्या नहीं करता है। प्यार में इंसान कभी अपनी जान ले लेता है तो कभी दूसरों की, तो कभी वह दुनिया से टकरा जाता है। प्यार में किसी चीज की बंदिश नहीं होती है। न जात-पात की, न तो अमीरी गरीबी की। लेकिन, प्यार अगर देश और सरहद की सीमाएं लांघकर किसी से मिलने आ जाये तो ऐसा प्यार वाकई में खास होता है। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश से सामने आया है, जिसे जानकर आप भी सोच में पड़ जाएंगे की क्या कोई वाकई में प्यार के लिए ऐसा कर सकता है। ऐसे कई लोग होते हैं जो एक दूसरे बेइंतहा प्यार करते हैं और शादी के लिए किसी भी हद तक गुजर जाते हैं।

ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश से सामने आया है, जहां एक देसी छोरे और जर्मनी की गोरी के प्‍यार के चर्चे इन दिनों लोगों कि जुबान पर हैं। संस्‍कृति, परंपरा, बोली और विचारों में अलग होने के बावजूद दोनों को एक दूसरे से प्यार हुआ और लड़की ने प्यार कि मिशाल पेश करते हुए शादी के भारत आ गई। रिपोर्ट के मुताबिक, लड़के का नाम अरविंद और लड़की का नाम मारिया हाफमैन है। अरविंद यूपी के शामली जिले का रहने वाला है और मारिया जर्मनी की रहने वाली है।

हालांकि, जर्मनी से वापस लौटने के बाद अरविंद मरर्चेंट नेवी की नौकरी छोड़कर आगे की पढ़ाई करने लगे। कुछ दिनों तक दोनों एक दूसरे से बातचीत करते रहे। सब कुछ सही लगा तो मारिया शादी के लिए भारत आ गईं। लेकिन, चौकाने वाली बात ये है दोनों के प्यार पर परिवारवालों को कोई एतराज नहीं हुआ। घरवालों कि इजाजत के साथ दोनों ने इसी साल में शादी कर ली। मारिया ने शादी के बाद अपनी शादी को रजिस्‍टर कराने के लिए अप्‍लाई किया हुआ है।

दोनों की शादी पूरे हिन्दू रीती रिवाज से हुई है। लेकिन, अब मारिया अरविंद के साथ भारत में ही रहना चाहती है। लोग इस किस्सा को प्यार की मिशाल बता रहे हैं। दोनों की शादी के चर्चे इन दिनों इलाके में हो रही है। मारिया के मुताबिक उन्हें अरविंद की सादगी पसंद आई इसलिए वो अपना देश छोड़कर भारत आकर शादी करने का बेहद कठीन फैसला कर सकीं। दोनों की शादी के चर्चे पूरे इलाके में हो रही है। जल्द ही कोर्ट से भी दोनों की शादी को मंजुरी मिल जायेगी। लेकिन, इस तरह किसी के लिए प्यार में अपना देश छोड़कर आना वाकई में बड़ी हिम्मत का काम है, इसलिए लोग मारिया से काफी खुश हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here