शादी हर व्यक्ति के लिए एक ख़ास मौका होता है। लड़का हो या लड़की दोनों ही अपनी शादी के लिए कई दिन पहले से ही तैयारी में लग जाते हैं। उस दिन इस तरह से तैयार होना है कि सबकी निगाहें उनके ऊपर ही रहें। शादी के माहौल में हर कोई अपने में व्यस्त होता है। कोई नाचने में व्यस्त होता है तो कोई खाने में। हर कोई अपने ही रंग में दिखाई देता है। दुल्हे के परिवार वालों से लेकर दुल्हन के परिवार वाले, सब अपने में मस्त रहते हैं।

ऐसी ही एक शादी के समारोह में सभी लोग मौज-मस्ती के रंग में दुबे हुए थे। कोई डीजे की धुनों पर थिरक रहा था तो कोई शादी की तैयारियों में लगा हुआ था। पूरा समा खुशियों से भर हुआ था। स्टेज पर दूल्हा-दुल्हन के जयमाला का कार्यक्रम चल रहा था। अपनी सखियों के साथ दुल्हन स्टेज पर दुल्हे को वरमाला पहना चुकी थी। उसे इंतज़ार था कि उसका राजकुमार जल्दी से वरमाला डाले। दूल्हा भी तैयार ही था, लेकिन अचानक से वह गिर पड़ा।

आस-पास के लोग उसे लगभग 15 मिनट तक पानी डालकर उठाने की कोशिश में लगे रहे। लेकिन उसे उठता ना देखकर उसे तुरंत शहर के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया। जहाँ डॉक्टरों ने उसका मुआयना करने के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। परवाना नगर की गली नंबर दो में रहने वाले खेड़ा परिवार के लड़के सौरव कुमार का विवाह बुधवार रात को शहर के ही विंडसर गार्डन में हो रहा था। लड़की पक्ष वालों का आरोप है कि लड़के को पहले से ही कोई गंभीर बीमारी थी, लेकिन इसके बारे में उन्हें नहीं बताया गया।

इसको लेकर दोनों पक्षों में जमकर बहस हुई। जब दुल्हे के मरने की खबर मैरिज पैलेस तक पहुँची तो एक-एक करके सभी लोग अपने-अपने घर चले गए। जानकारी के अनुसार मरने वाले युवक के पिता एक बैंक में सहायक मैनेजर के पद पर तैनात हैं। वहीँ मरने वाला युवक सौरव बिजली बिल के साथ ही अन्य तरह के बिल को ऑनलाइन भरने का काम करता था। मृत के परिजनों का कहना है कि उनका बेटा किसी तरह का कोई नशा नहीं करता था और ना ही उसे पहले से कोई बीमारी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here