पलसाना-कडोदरा हाईवे पर रविवार दोपहर करीब 3 बजे भीषण सड़क हादसा हुआ। ओवरटेक करने के दौरान तेज रफ्तार इनोवा कार बेकाबू होकर डिवाइडर के उस पार चली गई और सामने से आ रहे सब्जी लदे ट्रक से उसकी भिड़ंत हो गई। हादसे में इनोवा सवार 12 युवकों में से 10 की मौत हो गई। दो गंभीर रूप से घायल हैं।

12 दोस्त सेकंड हैंड इनोवा की टेस्ट ड्राइव कर लौट रहे थे

छह लोगों की घटनास्थल पर और चार की अस्पताल में मौत हुई। ट्रक में सवार चार में से 2 लोग भी गंभीर हैं। सभी घायलों को स्मीमेर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटनास्थल बालेश्वर गांव सूरत रेलवे स्टेशन से करीब 21 किमी दूर है। कडोदरा के 10 युवकों समेत 12 दोस्त रविवार को सेकंड हैंड इनोवा की टेस्ट ड्राइव कर सापूतारा से लौट रहे थे। घटनास्थल पर मौजूद लोगों ने घायलों और शवों को क्षतिग्रस्त कार से बाहर निकाला। इस दौरान ट्रैफिक जाम लग गया। पुलिस ने क्रेन से कार हटवाया, तब जाम खुला।

वडोदरा की कार, ब्रोकर को दिया था बेचने के लिए 

कार वडोदरा की है। कार मालिक ने इसे बेचने के लिए कडोदरा के एक ब्रोकर को दे रखी थी। हादसे का शिकार एक युवक ब्रोकर से यह कार खरीदने वाला था। खरीदने से पहले वह दोस्तों के साथ लॉन्ग टेस्ट ड्राइव पर गया था। सूरत लौटते वक्त यह हादसा हो गया। ट्रक हैदराबाद से मोराछा जा रहा था। घटना के बाद ट्रक ड्राइवर फरार हो गया।

एक का सिर कटकर 35 मीटर दूर जा गिरा

हादसा इतना भीषण था कि करीब 50 से 60 मीटर तक घसीटते हुए जाने के बाद इनोवा पिचक गई। एक युवक का सिर धड़ से अलग होकर करीब 30-35 मीटर दूर उछल गया। इनोवा में फंसे घायलाें और शवों को लोगों ने बाहर निकाला। कुछ शव दुर्घटना के दौरान ही बाहर गिर गए थे। हादसे के 30 मिनट बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंची।

 

8 मृतकों की शिनाख्त

हादसे में कडोदरा निवासी मनीष सेन (22), चिराग वर्मा (22), विशाल सामंत (23), बिट्टू राजपूत (32), सन्नी राजपूत (20), तारासिंह चौहान (26) सुमित कुमार शाहू (17), सचिन निवासी सुबोध चौधरी (33) की मौत हो गई। दो युवकों की आधी रात तक शिनाख्त नहीं हो पाई। मनीष सूरत में राष्ट्रवादी हिंदू युवा वाहिनी का संगठन मंत्री था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here