फिल्म इंडस्ट्री एक ऐसी जगह है जो काफी लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती है। छोटे और बड़े शहरों से काफी लोग यहां अपनी किस्मत आज़माने आते हैं, लेकिन वे यह भूल जाते हैं कि हरा-भरा जंगल खतरनाक भी हो सकता है।

आज हम आपको उस अभिनेत्री के बारे में बताने जा रहें हैं जिन्होंने अपने शुरुवाती करियर में तो काफी बुलंदियां छुई लेकिन उनका अंत बड़ा ही दर्दनाक था।


निशा नूर, जो कि साउथ इंडस्ट्री में 1980 के दशक की जानी-मानी नाम थीं और जिनके साथ हर बड़ा कलाकार काम करना चाहता था, उनका अंत पीड़ा भरा रहा। कहते हैं कि जब वे अपने करियर की बुलंदियों पे थीं तो उस समय के एक प्रोडूसर ने उन्हें प्रोस्टीटूशन में धकेल दिया। ऐसा होने के बाद उनसे फिल्म इंडस्ट्री के लोगों ने मुंह फेर लिया। इस वजह से वो अकेलेपन की शिकार हो गई।

यह सब होने से पहले रजनीकांत और कमल हासन जैसे साउथ के बड़े-बड़े नाम उनके साथ काम करना चाहते थे। लेकिन जब निशा प्रोस्टीटूशन में धकेली गईं तो उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री छोड़ दी। इसके बाद उनका नाम साउथ फिल्म इंडस्ट्री से गायब ही हो गया। कुछ सालों बाद 2007 में एक दरगाह के पास निशा को बड़ी ही दर्दनाक हालत में देखा गया। वे दरगाह के बहार लेटी हुई मिलीं और उनके शरीर पर चींटियां व कीड़े रेंग रहे थे। यह सब देख के वह मौजूद लोगों ने उन्हें नज़दीकी हॉस्पिटल पहुंचाया।

हॉस्पिटल में ले जाने के बाद डॉक्टर ने उनका जब इलाज किया तो पता चला कि वे एड्स से पीड़ित हैं। यह सुन कर सब के होश उड़ गए कि जो अदाकारा इतनी मशहूर थीं, वे आज इस हालत में ज़िन्दगी और मौत के बीच लड़ रही हैं। हालांकि, वे इस बीमारी से ज़्यादा समय तक लड़ न सकीं और उन्होंने हॉस्पिटल में ही दम तोड़ दिया।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here