Connect with us

लाइफ स्टाइल

जेठानी को भा गया देवरानी का नाबालिग भाई करने लगी झींगालाला

Published

on

जेठानी ने अपनी देवरानी के नाबालिग भाई को अपनी हवस का शिकार बना डाला। मामला है नाबालिग के शोषण का और अभियुक्‍त है बहन की जेठानी। शारीरिक जरूरतों को पूरा करने के लिए उसने बच्‍चे को शिकार बनाया और लगातार 10 माह तक उसका शोषण करती रही। इतना ही नहीं फरमाइश पूरी करने के लिए उसने नाबालिक को समाज में बदनाम करने का डर दिखाया।

ऐसे में पीडि़त ने घर में चोरी करनी शुरू कर दी। दबाव में नाबालिग घर से रुपये व जेवरात चुराकत आरोपित को देता रहा। परिजनों के मामला संज्ञान में आने पर उन्होंने पुलिस में शिकायत की, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई ऐसे में उन्‍होंने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। कोट के आदेश पर आरोपित महिला के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू की गई।

मोहल्ला ओझान निवासी एक व्यक्ति ने अपने अधिवक्ता संजीव कुमार आकाश के माध्यम से न्यायालय में प्रार्थना-पत्र देकर कहा कि उसने अपनी पुत्री की शादी सात वर्ष पहले गुरुनानक कॉलोनी निवासी व्यक्ति से की थी। उसके नाबालिग पुत्र का अपनी बहन के घर आना जाना था। आरोप है कि इस बीच पुत्री की जेठानी उसके नाबालिग पुत्र के साथ पिछले करीब 10 माह से नाजायज संबंध बना रही थी।

इतना ही नहीं आरोपित ने नाबालिग को अपनी फरमाइश पूरी करने के लिए भी मोहरा बना लिया। दबाव बनाया कि नाबालिग ने उसकी डिमांड पूरी नहीं की तो वह समाज में उसे बदनाम कर देगी। डर की वजह से पुत्र घर से रुपये और कीमती जेवरात लाकर बेटी की जेठानी को देता रहा। काफी समझाने के बाद नाबालिग बेटे ने यह बात घर में बताई।

मामले की तहरीर पुलिस को सौंपने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। वादी द्वारा बेटे के नाबालिग होने के प्रमाण में आधार कार्ड प्रस्तुत किया गया। विशेष न्यायाधीश पाक्सो की अदालत ने प्रार्थना-पत्र स्वीकार कर कोतवाली पुलिस को केस दर्ज कर मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status